SrijanGatha

साहित्य, संस्कृति व भाषा का अन्तरराष्ट्रीय मंच


'कला' के खोज परिणाम (Search Result)

<< 1 2 >>


कला : 19 परिणाम


रहस्योद्घाटन: वेश्या नहीं थी, जिसे वान गॉग ने कान काट कर दिया था New Window


प्रविष्टिकर्ता : जया केतकी | Views : 0 | प्रविष्टि तिथि : 13/Jul/2016
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Shesh-vishesh13July2016
Share |

आधुनिक भारतीयता के चितेरे थे मणि दा New Window


प्रविष्टिकर्ता : - | Views : 676 | प्रविष्टि तिथि : 6/Jul/2016
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Samachar6July2016
Share |

अनहद नाद : जहाँ दर्शक रंगकर्मी बन जाता है! New Window


प्रविष्टिकर्ता : धनंजय कुमार | Views : 480 | प्रविष्टि तिथि : 20/FEB/2016
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Shesh-vishesh20Feb2016
Share |

निर्भया की आत्मा से एक प्रश्न New Window


प्रविष्टिकर्ता : आचार्य रसिक बिहारी मंजुल ‘‘मंजुलाचार्य’कला सरस्वती, 5 सी0, पटेल चैस्ट फ्लैट्स, ढका गाँव, किंग्सवे कैंप, दिल्ली-110 | Views : 1156 | प्रविष्टि तिथि : 18/May/2015
Tags :. कविता
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Kavita-18May2015
Share |

थिएटर को नए मायने दे रहे हैं मंजुल भारद्वाज New Window


प्रविष्टिकर्ता : धनंजय कुमार | Views : 1015 | प्रविष्टि तिथि : 11/Mar/2015
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Shesh-vishesh-kala-11Mar2015
Share |

अखिल भारतीय साहित्य कला मंच: साहित्यकार सम्मान समारोह- 2012 New Window


प्रविष्टिकर्ता : - | Views : 673 | प्रविष्टि तिथि : 18/Oct/2012
Tags :. हलचल
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Halchal-18-Oct-2012
Share |

आलोचना भूल-सुधार की प्रक्रिया है:नन्द किशोर नवल New Window


प्रविष्टिकर्ता : कलानाथ मिश्र | Views : 1327 | प्रविष्टि तिथि : 15/Oct/2012
Tags :. कथोपकथन
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/कथोपकथन-15Oct-2012
Share |

जीवन-मर्म के कालजयी साहित्यकार: विष्णु प्रभाकर New Window


प्रविष्टिकर्ता : कलानाथ मिश्र | Views : 1718 | प्रविष्टि तिथि : 22/Aug/2012
Tags :. आलेख
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Aalekh22Aug2012
Share |

प्रेमचंद रंगशाला के लिए ही कुर्बान हुए थे कवि कन्‍हैया? New Window


प्रविष्टिकर्ता : अरुण कमल | Views : 1542 | प्रविष्टि तिथि : 25/JAN/2012
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/कला25Jan2012
Share |

कई रंगों में रंगा विकलांग रचनाकार : वीरेंद्र New Window


प्रविष्टिकर्ता : निर्मला पुतुल | Views : 2102 | प्रविष्टि तिथि : 13/Nov/2011
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Shesh-vishesh-13Nov2011
Share |

हिन्दी के चलते हिन्दी पेशेवर रंगमंच असंभव है New Window


प्रविष्टिकर्ता : मुद्राराक्षस | Views : 1024 | प्रविष्टि तिथि : 24/Sep/2011
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Shesh-Vishesh-24Sep2011
Share |

तुम्हारे हाथ फौरन पहचान जाऊँगा New Window


प्रविष्टिकर्ता : विनोद भारद्वाज | Views : 1153 | प्रविष्टि तिथि : 17/Sep/2011
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/शेष-विशेष-17Sep2011
Share |

प्रसिद्ध पटना पुस्तक मेला 10 दिसंबर से New Window


प्रविष्टिकर्ता : - | Views : 943 | प्रविष्टि तिथि : 3/Dec/2010
Tags :. हलचल
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/halchal1-3Dec2k10
Share |

बाग की गुफाएं : अद्भुत कला New Window


प्रविष्टिकर्ता : डॉ. अलका दर्शन श्रीवास्तव | Views : 1992 | प्रविष्टि तिथि : 1/Dec/2010
Tags :. शेष-विशेष > कला
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/SheshVishesh1_1Dec2k10
Share |

अब भी अपने अंदर एक गाँव को जीता हूँ- नामवर सिंह New Window


प्रविष्टिकर्ता : कलानाथ मिश्र | Views : 859 | प्रविष्टि तिथि : 9/Aug/2010
Tags :. संस्मरण
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Sansmaran-9-Aug-2k10
Share |

अथ हिन्दी पूजन कथा New Window


प्रविष्टिकर्ता : कलानाथ मिश्र | Views : 692 | प्रविष्टि तिथि : 1/Jun/2010
Tags :. व्यंग्य
Link To Copy :. http://www.srijangatha.com/Vyangya1_10jun2K10
Share |

<< 1 2 >>