SrijanGatha

साहित्य, संस्कृति व भाषा का अन्तरराष्ट्रीय मंच



मुम्बई । विश्व मैत्री मंच द्वारा युवा कवि हेमन्त की स्मृति में आयोजित हेमंत स्मरण एवं कवि सम्मेलन का आयोजन एवं मुंबई के सभी साहित्यकारों का उसमें अपनी मौजूदगी दर्ज कराना मानो हेमंत की यादों का लौट आना था। सभागार उस समय बेहद भावुक हो उठा जब ललिता अस्थाना, सूरज प्रकाश ,रीता दास राम, सूर्यबाला ,सुधा अरोड़ा ने हेमंत की स्मृतियों को साझा किया ।आयोजन के मुख्य अतिथि महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी के अध्यक्ष डॉ नंदलाल पाठक ,अध्यक्ष 'नवनीत' के संपादक विश्वनाथ सचदेव,विशिष्ट अतिथि अभिनेता,कवि राजेन्द्र गुप्ता, जे जे टी यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ विनोद टिबड़ेवाला,वरिष्ठ पत्रकार एवं कवि डॉक्टर राकेश पाठक तथा समीक्षक कवयित्री मधु सक्सेना ने हेमंत की कविताओं पर चर्चा करते हुए हेमंत को याद किया ।राजेंद्र गुप्ता ने अपने खास अंदाज में हेमंत की चार कविताओं का पाठ किया।

कार्यक्रम में जहां एक ओर कमलेश बख्शी, डॉ रोचना भारती, डॉ विद्या चिटको ,धीरेंद्र अस्थाना वेद प्रकाश ,रेखा रोशनी जैसे वरिष्ठ लेखक मौजूद थे वही हस्तीमल हस्ती, सुभाष काबरा,राकेश शर्मा,देवमणि पाण्डेय,शाश्वत रतन , खन्ना मुज़फ्फरपुरी, संतोष श्रीवास्तव हरि मृदुल ,लक्षमण शर्मा वाहिद ,सुमिता केशवा,चित्रा देसाई, संजय भिसे, ज़ुबेर आज़मी ,रेखा बब्बल आदि कवियों ने काव्य पाठ किया।

आभार ज्योति गजभिए ने ,संचालन अनुराधा सिंह, प्रमिला शर्मा ने किया।